गुरुवार, 20 मई 2004

नई शुरुवात

ब्लौगर के नये रूप के बाद पहला चिट्ठा

10 टिप्‍पणियां:

Shail ने कहा…

संजय जी, आप भी :)

Debashish ने कहा…

बधाईयां!! आपके ब्लॉग से ही ब्लॉगर की टिप्पणी प्रणाली के प्रथम दर्शन कर रहा हूँ। बढ़िया है!

Debashish ने कहा…

अरे वाह! ये तो नई बात है, देखता हूँ कि बलॉगर टिप्पणी लेखक को भी टिप्पणी हटाने का अधिकार दे रहा है। ऐसा तो कहीं और नहीं देखा!

Sanjay ने कहा…

शैलजी, आपसे प्रेरित हो कर हमने भी बहती गंगा में हाथ धौ ही लिये|

Sanjay ने कहा…

देबाशीशजी, एक और पहलू ब्लॉगर टिप्पणीयों का.. मुझे यह दूसरों की टिप्पणीयाँ हटाने भी देता है।

बेनामी ने कहा…

अब संजय आप ने तो मेरी लेग पुलिंग कर ली, टिप्पणी हटाने की सुविधा तो कई ब्लॉग प्रणालियों में उपलब्ध है, जैसे रोलर में, हाँ संपादन की अनुमति नहीं है। हेलोस्कैन से तो ब्लॉग का मालिक टिप्पणी संपादित भी कर सकता था, हालांकि उससे तुलना उचित नहीं फिर भी जिक्र आया तो..

Debashish ने कहा…
इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.
naru ने कहा…

लो भईया हमारी भी भोर भई गई। निद्रा छोड़ अब ऑफिस का समय है। संजय जी नए रूप यौवन के लिए मुबारकबाद। ऐसे कायापलट की सुविधा मानवों के पास भी होती तो कितना मजा आता :D

पंकज

Sanjay ने कहा…

पंकज जी, ऐसी कायपलट की सुविधा पुरूषों के पास नहीं पर युवतियों के पास जरूर होती है। :)

बेनामी ने कहा…

how do you type in hindi.